About Me

Namstey Everybody!

मेरा नाम युवराज डोडिया है, और मैं उन लाखों लोगों में से एक हूं जो सुबह साढ़े छह बजे उठ कर तैयार होते है; एक ऐसी नोकरी पर जाने के लिये जिसे वें इतनी नफरत करते है जितनी कि बिल्ली, कुत्ते को।

पिछले चार साल से मैं यह जानने की कोशिश कर रहा हूं कि में इस 8.30 to 5.30 की job से कैसे पीछा छुड़ाऊं। (9 to 5 तो विदेश में होता है, लेकिन यह India है।)

और मैंने यह ब्लॉग इसी कोशिश से शुरू किया है ताकि मैं उस जॉब से निकल कर वह काम कर सकु, जो में वाकई में करना चाहता हूं।

हालांकि ना तो मुझे कुछ लिखना आता है और नाहीं मेरी हिंदी बहुत अच्छी है,पर इन पिछले चार सालों में मैंने बहुत सारा ज्ञान हांसिल किया है, जोकि मैं उन लोगों से share करना चाहता हूं, जो मेरी ही तरह इस समाज ने बनाई so called society के नियमों के तले दबें जी रहे है, और वहां से बाहर निकलना चाहते है।

हा पता है मुझे, कि मैं खुद यहां से अभी बाहर नहीं निकल पाया तो दूसरों को क्या निकाल पाऊंगा,पर क्या पता “कल किसने देखा है।”

आपका तो पता नहीं पर मैंने कल को नहीं देखा,पर मैंने उस कल का सपना देखा है, और मैं उसे पूरा करने की कोशिश मैं सफलता हांसिल करूँगा या फिर उसे पूरा करने की कोशिश में मर जाऊंगा।